सिप और म्यूचुअल फंड में क्या अंतर है?

एसआईपी और म्यूचुअल फंड में क्या अंतर है? 

इस लेख में हम चर्चा करेंगे कि एसआईपी और म्यूचुअल फंड में क्या अंतर है? यह जानने के साथ-साथ हम यह भी समझेंगे कि म्युचुअल फंड के बारे में याद रखने वाली 5 बातें कौन सी हैं, जिनसे हम अपने लिए सबसे अच्छा म्यूचुअल फंड चुन सकते हैं।

sip aur mutual fund me kya antar hai
 
एस आई पी क्या है: एसआईपी (Systematic Investment Plan) यह एक सिस्टमैटिक निवेश स्कीम है, जिसकी मदत से हम किसी भी म्यूच्यूअल फण्ड में या शेयर में नियमित अंतराल पर निवेश करते है | अब हम जानते है के SIP कब की जाती है ?
 
 
जब हम SIP  की बात करते है तो ओ  एक तो शेयर में भी की जा सकती है और म्यूच्यूअल फण्ड में भी | मान लीजिये अगर हमें किसी कंपनी के शेयर में हर महीने में कुछ शेयर खरीदने है तब हम उस शेयर में sip सुरु करते है |

 
SIP  को इस्तेमाल करने का दूसरा तरीका यह होता है के; अगर मान लीजिये हमें बहोत सारे शेयर में निवेश करना है और हमारे पास उतना पैसा नहीं है; उस स्तिथि में हम म्यूच्यूअल फण्ड में SIP  को निवेश का माध्यम चुनते है |

 
अब हम समझते है के म्युचुअल फंड क्या है?  म्यूच्यूअल फण्ड एक प्रोफेशनल तरीके से  काम करने वाला Fund  है | जिसमे एक साथ बहोत सारी  कंपनीयो के शेयर को ख़रीदा और बेचा जाता है | इसमें म्यूच्यूअल फण्ड का अर्थ आप इस बात से लगा सकते हो के इसमें निवेश करने वाले लोग भी बहोत  होते है| जिनमे समान रूप से किसी भी शेयर का बटवारा किया जाता है |   और इन्ही म्यूच्यूअल फण्ड में जब हम निवेश करते है तब उसे SIP  कहा जाता है|
 

हमारे देश में म्यूच्यूअल फण्ड चलाने वाली बहोत सारी बड़ी बड़ी कम्पनिया है जैसे के TATA ,  SBI , एक्सिस , ICICI , HDFC और भी अन्य हम इन्हे म्यूच्यूअल फण्ड House के नाम   से जानते है |

 
अब हमें लगता है के आप एस आई पी क्या है? और  SIP और म्यूचुअल फंड में क्या अंतर है? इन दोनों बातो को समझ गए होंगे | अब हम ये भी जान लेते है के म्यूच्यूअल फण्ड कितने प्रकार के  होते है?  म्यूच्यूअल फण्ड structure  wise  मुख्य रूप से दो प्रकार के होते है Open Ended Mutual Fund & Close Ended Mutual Fund. इसके अलावा एक और म्यूच्यूअल फंड होता है Interval Fund, ये फंड बहुत ही कम होते हैं।
 
अगर आप  SIP  या म्यूचुअल फंड के फायदे और नुकसान के बारे में जानना है तो आप हमारी इस पोस्ट को पढ़ सकते है |

पढ़े :म्यूचुअल फंड के फायदे और नुकसान

 
अब हमारे सामने कुछ और बुनियादी बाते आ जाती है के एसआईपी कैसे शुरू करें? तो इसके लिए आप किसी भी डीमैट  अकाउंट को ओपन कर वह से SIP के रूप से निवेश कर सकते है | अगर आप के पास कोई भी डीमैट  अकाउंट नहीं है तो आप फ्री में UPSTOX  से तुरंत ही १० मिनिट के अंदर अपना डीमैट  अकाउंट ओपन कर सकते है | UPSTOX की official  site से |


अगर आप Sip aur mutual fund me kya antar hai ये समझ गए तो; अब हम उन बातो को समझेंगे जिससे आपको  सबसे बेस्ट म्यूच्यूअल फण्ड को चुनने में मदत होगी|

 

सिप और म्यूचुअल फंड में क्या अंतर है

 
म्यूच्यूअल फण्ड  में निवेश करने से पहले आप को उस म्यूच्यूअल फण्ड की इन बातो को check  करना है |
१. Alpha यह ratio  १० से ज्यादा होना चाहिए |
२. Beta  यह ratio  ०.८ से काम होना चाहिए |
३. TER - TOTAL  एक्पेंसे  RATIO  कम होना चाहिए  |
४. शार्प RATIO  ज्यादा होना चाहिए |
५. AEM ज्यादा होना चाहिए | जो कंपनी के टोटल मार्केट वैल्यू को दिखाती है
 
आप इन बातो को ध्यान में रखकर खुद एक बेस्ट म्यूच्यूअल फण्ड का चुनाव कर   सकते है |

 
लेखक की और से :
हमने इस लेख में एस आई पी क्या है?, Mutual Fund Sip Kya Hai?, एसआईपी कैसे शुरू करें? सबसे बेस्ट SIP कैसे चुने? , SIP aur mutual fund mein kya antar hai? इन सब के बारे में सरल शब्दों में  कोशिश की| अगर आपको यह पोस्ट अच्छा लगे तो अपने दोस्तों के साथ इसे Share  जरूर करे| और आप हमें अपने कीमती सुझाव जरूर Comment  करे |

0 Comments